Skip to Content

Languages

Ajmer

मैदानी खेल कार्यशाला @अजमेर

विवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी शाखा अजमेर द्वारा लायनेस क्लब अजमेर सर्व उमंग के सहयोग से 8 से 16 वर्ष के आयु के बालक बालिकाओं के लिए मैदानी खेल कार्यशाला  का आरम्भ हुआ।

एकनाथजी फिल्म से हुआ राष्ट्रभक्ति का संचार

विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी के संस्थापक माननीय एकनाथजी के जीवन चरित्र का हुआ जीवन्त प्रदर्शन 

प्रो0 वासुदेव देवनानी एवं अनिता भदेल सहित शहर के गणमान्य जनप्रतिनिधियों एवं सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने पूरे दो घण्टे तक हॉल में देखी फिल्म

'परीक्षा दें हंसते हंसते’ आज से

बच्चों को परीक्षा के भय से मुक्ति दिलाने के लिए विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी द्वारा कक्षा 6 से 12 तक के विद्यार्थियों हेतु ‘‘परीक्षा दें हंसते हंसते’’ योग प्रतिमान कार्यशाला आयोजित की जाएगी। यह कार्यशाला 4 जुलाई से प्रतिदिन सांय 6 बजे से 8 बजे तक भगवानगंज स्थित शहीद अविनाश माहेश्वरी विद्यालय में आयोजित होगी।

अजमेर में विवेकानन्द केन्द्र की योग प्रतिमान कार्यशाला

04/07/2017 18:00
Asia/Calcutta

परीक्षा दें हंसते हंसते’ 4 जुलाई से 

आज के समय में बच्चे पढ़ाई को समझने के बजाय रटना अधिक सरल मानते हैं जिससे उन्हें विषय का पूरा ज्ञान नहीं हो पाता तथा प्रश्नों के उत्तर ढूंढने के लिए पासबुक एवं कुंजियों पर निर्भर रहते हैं किंतु जब परीक्षा में विषय को घुमाकर प्रश्न कर लिया जाता है तो उन्हें जवाब नहीं मिलता तथा इस कारण परीक्षा से उन्हें डर लगने लगता है।

चन्द्रवरदाई नगर में योग सत्र @ अजमेर

11/06/2017 05:30
20/06/2017 07:00
Asia/Calcutta
21 जून तक चलेगा योग प्रशिक्षण कार्यक्रम : योग चेतना के माध्यम से मनुष्य निर्माण से राष्ट्र पुनरुत्थान के कार्य में संलग्न आध्यात्म प्रेरित सेवा संगठन विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी द्वारा आगामी 21 जून को मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हेतु 15 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के महिला एवं पुरुषों को योग प्रशिक्षण देने के उद्देश्य से चन्द्रवरदाई नगर ‘ए’ ब्लॉक विकास समिति के सहयोग से 10 दिवसीय योग प्रशिक्षण सत्र का आयोजन आगामी 11 जून से करने जा रहा है।

अजमेर में योग सत्र

Yoga Satra in Ajmer‘जीवन में मुस्कान’ थीम पर आधारित विवेकानन्द केन्द्र कन्याकुमारी शाखा अजमेर की ओर से योग प्रशिक्षण सत्र का आरंभ शहीद भगत सिंह उद्यान, वैशाली नगर में हुआ। प्रथम चरण में सामान्य वर्ग एवं वरिष्ठ वर्ग में अभ्यास कराए गए। शिथली

Syndicate content