Skip to Content

Languages

जयपुर शहर में निकली विशाल शोभायात्रा

जयपुर 12 जनवरी। स्वामी विवेकानन्द की 150 वीं जयन्ती वर्ष के पूर्ण होने पर ‘‘स्वामी विवेकानन्द सार्धशती समारोह’’ के नाम से किये जाने वाले वर्षभर के कार्यक्रमों का भव्य शुभारम्भ आज विषाल शोभायात्रा द्वारा गुलाबी नगर सहित सम्पूर्ण देषं में प्रारम्भ हुआ।
राजस्थान क्षेत्र के लगभग 700 स्थानों पर विवेकानंदजी की विशाल शोभा यात्रा निकाली गयी। शहर में कार्यक्रम के संयोजक हरीहर पारिक ने बताया की जयपुर में दो स्थानों से विषाल  शोभायात्राएं निकली।

जयपुर 12 जनवरी। स्वामी विवेकानन्द की 150 वीं जयन्ती वर्ष के पूर्ण होने पर ‘‘स्वामी विवेकानन्द सार्धशती समारोह’’ के नाम से किये जाने वाले वर्षभर के कार्यक्रमों का भव्य शुभारम्भ आज विषाल शोभायात्रा द्वारा गुलाबी नगर सहित सम्पूर्ण देषं में प्रारम्भ हुआ।
राजस्थान क्षेत्र के लगभग 700 स्थानों पर विवेकानंदजी की विशाल शोभा यात्रा निकाली गयी। शहर में कार्यक्रम के संयोजक हरीहर पारिक ने बताया की जयपुर में दो स्थानों से विषाल  शोभायात्राएं निकली।

दो स्थानों से शोभायात्रा
स्वामी  विवेकानंद सार्ध शती समारोह समिति द्वारा जयपुर में दो स्थानों चांदपोल गेट व सांगानेरी गेट से विषाल शोभा यात्राएं निकाली। दोपहर 1 बजे से शोभायात्राएं प्रारम्भ होकर विभिन्न मार्गो से होते हुए मेडिकल कालेज पर सम्पन्न हुई।
मार्ग 1 - चांदपोल, छोटी चैपड, त्रिपोलीया गेट, चैडारास्ता, न्यू गेट, रामनिवास बाग होते हुए मेडिकल कालेज पर सम्पन्न ।
मार्ग 2 - सांगानेरी गेट, जौहरी बाजार, बडी चैपड, त्रिपोलीया गेट, चैडारास्ता, न्यू गेट, रामनिवास बाग होते हुए मेडिकल कालेज पर सम्पन्न ।

150 विवेकानन्द मुख्य आकार्षण
स्वामी विवेकानंद सार्ध शती समारोह समिति द्वारा निकलने वाली शोभायात्राओं में 150 विवेकानन्द मुख्य आकार्षण रहे। शोभायात्रा में हाथी घोडो के लवाजमें के साथ बलवन्त व्यायामषाला तथा स्वामी विवेकानन्द के जीवन का दर्षन कराती लगभग 100 झांकीयां बैण्ड बाजो के साथ निकली।

सम्पूर्ण समाज हुआ शामिल
विवेकानन्द सार्धषती अयोजन समिति द्वारा निकाली गई विषाल शोभायात्रा में पारीक समाज, सिंधी समाज, माली समाल, कोली समाज, खण्डेलवाल समाज, खटीक समाज, सहित विष्व हिन्दू परिषद, मजदूर संघ, व़िद्यार्थी परिषद, दुर्गा वाहिनी, सुरमन संस्थान, सेवाभारती के साथ 50 विद्यालयो के 8 हजार विद्यार्थी झांकियो सहिम शामिल हुए।

संत समाज व धार्मिक संस्थान हुए शामिल
विवेकानन्द सार्धषती अयोजन समिति की शोभा यात्रा में श्री गणेष मन्दिर मोती डूंगरी, दक्षिणमुखी बालाजी, हाथोज, श्री सुधांषु जी महाराज, रामकृष्ण मिषन, गायत्री परिवार, स्वामी रामदेव, माता अमृतानंदमयर जी, अमरापुरा संस्थान के साथ विवेकानन्द केन्द्र, कन्याकुमारी की झांकिया सम्मिलित थी।