Skip to Content

Languages

Geeta Jayanti

Geeta Jayanti Program at Mysore

Geeta Jayanti Program at MysoreVivekananda Kendra Kanyakumari Mysore branch organised Gita Jayanti on 10th December 2016 at KARYALAYA.

विवेकानन्द केन्द्र, कन्याकुमारी शाखा शिमला द्वारा गीता जयंती पर कार्यक्रम

Geeta Jayanti Shimla 2016विवेकानन्द केन्द्र, कन्याकुमारी शाखा शिमला के द्वारा गीता जयंती का कार्यक्रम १० दिसम्बर, शनिवार को अायोजीत किया गया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता सेवानिवृत पोस्टमास्टर जनरल, हि. प्र.

Gita Jayanti celebrated by Kendra at Dronacharya PGCollege of Education Rait

Gita Jayanti  celebrated by Kendra at Dronacharya PGCollege of Education RaitBhagwad Gita Jayanti was  celebrated  at Dronacharya Post Graduate College of  Education at Rait,  organiz

भुवनेश्वर के द्धारा आयोजित गीता जयंती

Geeta Jayanti Bhuwaneswar 2016विवेकानन्द केंद्र कन्याकुमारी शाखा भुवनेश्वर के द्धारा आयोजित गीता जयंती, 11/12/2016 को मनाया गया | उसमे केंद्र के कार्यकर्ता, बाकि लोग और बच्चों को मिला कर ४० लोग आये हुए थे | पहले शांतिपाठ, कर्मयोग श्लोक संग्रह से सुरु

विवेकानन्द केन्द्र पटना में गीता जयंती समारोह

Geeta Jayanti Program 2016 Patnaविवेकानन्द केन्द्र द्वारा गीता जयंती समारोह कमला नेहरू शिशु विहार ,पाटलिपुत्र कॉलोनी में मनाया गया कार्यक्रम का शुभारम्भ तीन ओमकार प्रार्थना और भजन कृष्ण तुम्हारी गीता से हुआ। कार्यक्रम में विशेष रूप से कार्यकर्ताओं

Geeta Jayanti program at Badarpur

Geeta Jayanti Program at Badarpur 2016On the occasion of Geeta Jayanti Vivekananda Kendra Vidyalaya Badarpur & Vivekananda Kendra Badarpur organised one programme where Dr.

रायपुर में गीता जयंती का कार्यक्रम

Geeta Jayanti in Raipurविवेकानंद केंद्र कन्याकुमारी, शाखा –रायपुर द्वारा गीता जयंती के उपलक्ष्य में परिवार मिलन का कार्यक्रम रखा गया।

Gita Jayanti in VK Thiruvananthapuram

Gita Jayanti in VK ThiruvananthapuramGita Jayanti was organised in VK Thiruvananthapuram on 10 Dec 2016 at JJK Gurukulam Vattiyurkavu. Swami Tatwarupananda, Prof. Balakrishnan 

Gita Jayanti Celebration at Shimla

10/12/2016 14:30
10/12/2016 16:00
Asia/Calcutta

मनुष्य जीवन का लक्ष्य उस आत्मतत्व के साथ एक होना है जो इन सब समूहों में प्रगट हुआ है तथा सबसे ऊपर है। इन सभी के साथ एक होने के लिए कठोर परिश्रम के साथ जीना – देवत्व की व्याप्तता –ही योग है। इसका मार्ग यज्ञ है। ऐक्य दृष्टि वाला एक व्यक्ति सभी विविधता के अंदर एकता को पहचानता है तथा विविधता को प्यार करता है और इसकी निंदा नही करता। इस प्रकार यज्ञ या योगमार्गी जीवन ही अस्तित्व की समृद्धि और सद्भाव की वृद्धि कर सकता है। गीता हमें यही सिखाती है इसीलिए यह जीवं में अत्यंत महत्वपूर्ण है। भारत को सम्पूर्ण विश्व को सम्पूर्ण सृष्टि के ऐक्य और समृद्धि के लिए स्वयं के विस्तृत प्रगटीकरण –परिवार,समुदाय,समाज,रा

Geeta Jyanti Program in Ludhiana

Geeta Jyanti Program in LudhianaVivekananda Kendra Ludhiana organized fourth Geeta Jyanti Program.

Syndicate content